आज से फिर शुरू हो जाएंगे वीआईपी दर्शन, विशिष्ट और आरती पास की सुविधा भी हुई बहाल

रामनवमी मेले की वजह से रोकी गई वीआईपी दर्शन की व्यवस्था शनिवार से फिर शुरू हो जाएगी

आज से फिर शुरू हो जाएंगे वीआईपी दर्शन, विशिष्ट और आरती पास की सुविधा भी हुई बहाल

रामनवमी मेले की वजह से रोकी गई वीआईपी दर्शन की व्यवस्था शनिवार से फिर शुरू हो जाएगी। राममंदिर ट्रस्ट ने रामनवमी मेले में भारी भीड़ आने की संभावना के मद्देनजर 18 अप्रैल तक वीआईपी दर्शन व पास के माध्यम से होने वाले दर्शन पर रोक लगा दी थी। 15 अप्रैल से 18 अप्रैल तक जिन्होंने पहले से ही स्लॉट बुक कर लिए थे, उनके पास भी निरस्त कर दिए गए थे। अब पास के माध्यम से दर्शन व आरती में शामिल होने की व्यवस्था फिर बहाल कर दी जाएगी।

ट्रस्ट ने विशिष्ट दर्शन व सुगम दर्शन की दो नई श्रेणी तय की हैं। इस श्रेणी में दर्शन की सुविधा सुबह सात बजे से रात नौ बजे के मध्य दो-दो घंटे के छह अलग-अलग स्लाॅट में मिलती है। सुगम व विशिष्ट दर्शन के लिए हर स्लॉट में 100 पास जारी किए जाते हैं। इनमें से 20 पास ऑनलाइन बनते हैं, जबकि 80 पास ट्रस्ट के माध्यम से बनाए जाते हैं। एक दिन में कुल 600 पास जारी किए जाते हैं। साथ ही रामलला की मंगला, भोग व शयन आरती में शामिल होने के लिए भी पास की सुविधा है।

 इसके लिए भी हर आरती में शामिल होने के लिए 100 पास जारी किए जाते हैं। इसमें ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों तरीके से पास बनते हैं। राममंदिर के ट्रस्टी डॉ. अनिल मिश्र ने बताया कि रामनवमी मेले को देखते हुए बंद की गई सुगम, विशिष्ट दर्शन व आरती पास की व्यवस्था शनिवार से फिर शुरू कर दी जाएगी। पहले की तरह ही पास लेकर भक्त दर्शन को जा सकते हैं।


लद्दाख के उप राज्यपाल आज आएंगे अयोध्या
 लद्दाख के उप राज्यपाल डॉ. बीडी मिश्र शनिवार को अयोध्या आएंगे। वे सुबह 11.25 बजे महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर पहुंचेंगे। यहां से सड़क मार्ग से अयोध्या धाम के लिए रवाना होंगे। 11.45 बजे रामलला के दर्शन करने के बाद डोगरा रेजीमेंटल सेंटर के अतिथि गृह जाएंगे। यहां पर रात्रि विश्राम करने के बाद 21 अप्रैल को महर्षि वाल्मीकि हवाई अड्डे से लद्दाख के लिए रवाना होंगे