नोएडा में चोर गिरोह का भंडाफोड़: दिन में कबाड़ी बन करते रेकी, रात में घरों-दुकानों में लगाते सेंध; 7 गिरफ्तार 

'घरों और दुकानों में घुसकर कीमती सामान लूटने वाले गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरोह के सदस्य दिन के दौरान कबाड़ी के रूप में घूमते थे और उन दुकानों व घरों की पहचान करते थे, जिनमें चोरी की जा सकती है. वे रात के दौरान चिन्हित घरों और दुकानों में चारी की वारदात को अंजाम देते थे.'

नोएडा में चोर गिरोह का भंडाफोड़: दिन में कबाड़ी बन करते रेकी, रात में घरों-दुकानों में लगाते सेंध; 7 गिरफ्तार 

नोएडा पुलिस ने बुधवार को चोरी के लगभग दो दर्जन मामलों में शामिल चोरों के एक गिरोह का भंडाफोड़ किया और 7 लोगों की गिरफ्तारी की. पुलिस ने बताया कि यह गिरोह स्क्रैप डीलरों की आड़ में घरों और दुकानों को निशाना बनाने के लिए काम करता था, जबकि गिरोह के कुछ सदस्य टैक्सी ड्राइवर के रूप में भी काम करते थे.

नोएडा के एडिशनल डीसीपी शक्ति मोहन अवस्थी ने संवाददाताओं को बताया कि सेक्टर 113 पुलिस स्टेशन के अधिकारियों ने गिरोह का भंडाफोड़ किया है. एडीसीपी अवस्थी ने कहा, 'घरों और दुकानों में घुसकर कीमती सामान लूटने वाले गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरोह के सदस्य दिन के दौरान कबाड़ी के रूप में घूमते थे और उन दुकानों व घरों की पहचान करते थे, जिनमें चोरी की जा सकती है. वे रात के दौरान चिन्हित घरों और दुकानों में चारी की वारदात को अंजाम देते थे.'

गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान मोनू उर्फ ​​मोहसिन (35), मोहम्मद हफीज उर्फ ​​बंगाली (27), रूपेश कुमार (25), नदीम (24), आशीष (24), सत्यम राय (22) और योगेश गुप्ता उर्फ ​​सोनू (27) के रूप में हुई है. एडीसीपी शक्ति मोहन अवस्थी के मुताबिक इस गिरोह का सरगना मोनू उर्फ ​​मोहसिन है. पुलिस ने बताया कि गिरोह से जुड़े एक और व्यक्ति की पहचान की गई है, लेकिन वह फरार है. पुलिस के मुताबिक यह गिरोह चोरी का ज्यादातर सामान दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में एक कबाड़ी को बेचता था.