पीलीभीत में बारिश के पानी में बही नई रेल लाइन की पुलिया, लटक गई रेल पटरी; ट्रेनों का संचालन बंद

हाल ही में बड़ी लाइन में बदले पीलीभीत मैलानी जंक्शन रेलवे रूट पर शाहगढ़ स्टेशन व संडई हाल्ट के बीच सकरिया नाले के तेज बहाव से पुलिया रविवार की रात पानी के तेज बहाव से बह गई।

पीलीभीत में बारिश के पानी में बही नई रेल लाइन की पुलिया, लटक गई रेल पटरी; ट्रेनों का संचालन बंद

हाल ही में बड़ी लाइन में बदले पीलीभीत मैलानी जंक्शन रेलवे रूट पर शाहगढ़ स्टेशन व संडई हाल्ट के बीच सकरिया नाले के तेज बहाव से पुलिया रविवार की रात पानी के तेज बहाव से बह गई। यह पुलिया रेलवे पोल संख्या 241/2 व 241/3 के बीच बताई गई है। 

पुलिया बहने से घटिया निर्माण की भी पोल खुल गई है। इसके चलते इस रूट की सभी ट्रेनों का संचालन रेलवे प्रशासन ने फिलहाल बंद कर दिया है। नई ट्रेनों के संचालन में भी बाधा पैदा हो गई है। पुलिया के निर्माण में काफी समय लगेगा।

इसके अलावा खटीमा पुल पर पानी बढ़ने से टनकपुर पीलीभीत रूट की ट्रेनें बंदकर दी गई है। बता दें कि अभी हाल में ही मैलानी पीलीभीत के बीच कुछ ट्रेनों के संचालन की अनुमति मिली है। ऐसे में अब लोगों का इंतजार और बढ गया है। इधर लगातार हो रही बारिश के चलते शहर के गोदावरी स्टेट में लोगों के घरों में पानी भर गया।

ग्राम बैल्हा में घरों में भरा पानी
जिले में बारिश से नेपाल के सीमावर्ती गांव बैल्हा में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। गांव में पानी लोगों के घरों में घुस गया है। जिसके चलते ग्रामीण ऊंचे स्थानों पर शरण लिए हुए हैं तो घरों पर ही चारपाई पर घरेलू सामान रखकर दिन काट रहे हैं।
इधर अपर जिला अधिकारी वित्त एवं राजस्व ऋतु पूनिया ने लगातार हो रही बारिश को देखते हुए जिले में अलर्ट जारी किया है। उन्होंने बताया शारदा व देवहा नदी में लगातार जलस्तर बढ़ रहा है।
 
इसको ध्यान में रखते हुए लोग नदी के किनारे न जाएं एवं नदियों के किनारे बसे लोग वहां से सुरक्षित स्थानों पर निकल जाएं। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को अलर्ट करते हुए बाढ़ चौकियों पर तैनात कर्मियों को भी सतर्क रहने के लिए कहा है।