पिता ने टीवी देखने पर डांटा तो किशोरी ने दे दी जान

पीजीआई स्थित कल्ली पश्चिम इलाके में प्राइवेट कंपनीकर्मी सत्येंद्र गौतम रहते हैं। उनकी बेटी पूर्णिमा (14) कक्षा-9 की छात्रा थी।

पिता ने टीवी देखने पर डांटा तो किशोरी ने दे दी जान

पीजीआई स्थित कल्ली पश्चिम इलाके में प्राइवेट कंपनीकर्मी सत्येंद्र गौतम रहते हैं। उनकी बेटी पूर्णिमा (14) कक्षा-9 की छात्रा थी। बुधवार शाम को वह टीवी देख रही थी। इस पर पिता ने उसे डांट दिया। रात में ही वह पड़ोस में रहने वाली मौसी के घर गई थी। वापस आने पर जूस पिया था और फिर कमरे में सोने चली गई।

बृहस्पतिवार सुबह जब वह काफी देर तक नहीं उठी तो मां ने आवाज लगाई, पर कोई जवाब नहीं मिला। खिड़की से झांका तो देखा कि बेटी का शव फंदे से लटक रहा था।
दरवाजा तोड़कर उसे अस्पताल ले जाया गया, वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के बाद किशोरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। किशोरी के परिवार में मां ममता गौतम और एक भाई मानस हैं।