रशियन गर्ल के डांस ने कराया बवाल: नाइट क्लब में बाउंसर्स की दबंगई, ग्राहकों को पीटा; पुलिस ने बंद कराया क्लब

आगरा के फतेहाबाद रोड पर जोरो नाइट क्लब में शनिवार रात बाउंसर्स की दबंगई सामने आई।

रशियन गर्ल के डांस ने कराया बवाल: नाइट क्लब में बाउंसर्स की दबंगई, ग्राहकों को पीटा; पुलिस ने बंद कराया क्लब

आगरा के फतेहाबाद रोड पर जोरो नाइट क्लब में शनिवार रात बाउंसर्स की दबंगई सामने आई। बाउंसर्स ने रशियन डांस देखने के दौरान कुछ ग्राहकों को पीटा, इस पर रातभर हंगामा चला। सुबह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ताजगंज थाने की पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेकर केस दर्ज किया। क्लब मैनेजर सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

फतेहाबाद रोड स्थित ताजनगरी फेज-2 में जोरो नाइट क्लब है। शनिवार रात करीब 2 बजे स्टेज पर रशियन युवतियां डांस कर रही थीं। कुछ युवा ग्राहक स्टेज पर डांस करने पहुंच गए। इस पर कहासुनी होने लगी। क्लब के लोगों ने युवकों को नशे में धुत बताया और उनके बाउंसर्स युवा ग्राहकों को पीटने लगे। कुर्सी फेंके जाने लगे और उत्पात होने लगा। रातभर हंगामा चला। बाउंसर्स की दबंगई देख कई ग्राहक सहम गए। सुबह पिटाई के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए तो मामला पुलिस कमिश्नर तक पहुंचा। इसके बाद ताजगंज पुलिस ने नाइट क्लब में ग्राहकों से मारपीट के आरोप में डौकी निवासी बाउंसर आकाश व पंकज, कागारौल निवासी सतपाल, हरियाणा के पलवल निवासी क्लब मैनेजर बदल सिंह को गिरफ्तार किया। एसीपी सदर पीयूष कांत राय ने बताया कि आरोपियों के विरुद्ध केस दर्ज कर उन्हें जेल भेजा है।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहा हुक्का बार
जोरा नाइट क्लब के बराबर से पंचवटी कॉलोनी है। जहां 100 से अधिक परिवार रहते हैं। कॉलोनी वासियों ने आरोप लगाया कि रातभर नाइट क्लब में तेज म्यूजिक बजता है। ध्वनि प्रदूषण से वो लोग ठीक से सो नहीं पाते। पुलिस के अनुसार किसी भी क्लब में हुक्का बार प्रतिबंधित है। आरोप लगाया गया कि जोरो नाइट क्लब में हुक्का चलता है। रशियन बालाएं अश्लील डांस करती हैं, जिससे माहौल खराब हो रहा है।

गांजा से लेकर देह व्यापार का धंधा
क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि फतेहाबाद रोड पर ताजमहल के आसपास 12 से 15 नाइट क्लब हैं। इनमें कई जगह अवैध रूप से गांजा बिकता है। देह व्यापार का भी धंधा हो रहा है। देह व्यापार में लिप्त देशी-विदेशी युवतियां कॉल पर उपलब्ध कराई जाती हैं। इन्हें पुलिस, प्रशासन के अलावा राजनैतिक संरक्षण भी प्राप्त है। इससे अवैध गतिविधियों में लिप्त ऐसे क्लबों पर कार्रवाई नहीं होती।

पुलिस ने बंद कराया क्लब
पंचवटी चौराहा स्थित पदम हाई स्ट्रीट के छठवें तल पर संचालित जोरा नाइट क्लब को बवाल के बाद रात में पुलिस ने बंद करा दिया। क्लब खोलने पर रोक लगा दी गई है। यह क्लब तीन महीने पहले ही खुला था। क्लब में अवैध रूप से हुक्का और शराब परोसी जाती थी। क्लब के लिए पुलिस, अग्निशमन व अन्य विभागों से एनओसी लेनी पड़ती है।

एक दिन का लिया था अस्थायी लाइसेंस
जोरो नाइट क्लब में बार का स्थायी लाइसेंस नहीं था। ग्राहकों को शराब परोसने के लिए एक दिन का अस्थायी लाइसेंस लिया जाता था। जिला आबकारी अधिकारी नीरज द्विवेदी ने बताया कि शनिवार रात को 11 हजार रुपये का एक दिन का अस्थायी शराब पिलाने का नाइट क्लब ने लाइसेंस लिया था।

द ग्रैंड सेलिब्रेशन रिसॉर्ट हुआ सील
दयालबाग स्थित द ग्रैंड सेलिब्रेशन रिसॉर्ट में डिनर व पूल पार्टी के दौरान महिलाओं से छेड़छाड़ और मारपीट होने पर बृहस्पतिवार रात बवाल हुआ था। रिसॉर्ट का मानचित्र स्वीकृत नहीं था। एडीए ने शनिवार को रिसॉर्ट को सील किया। उधर, महिलाओं से छेड़छाड़ मामले में पुलिस की लापरवाही पर पंजाबी समाज के प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस कमिश्नर से शिकायत दर्ज कराई थी।