विश्व चैंपियन भारतीय टीम में किस तरह बंटे इनामी राशि के 125 करोड़ रुपये, जानें किसे मिले, कितने रुपये

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने टी20 विश्व कप की विजेता भारतीय टीम के लिए 125 करोड़ रुपये की इनामी राशि घोषित की थी

विश्व चैंपियन भारतीय टीम में किस तरह बंटे इनामी राशि के 125 करोड़ रुपये, जानें किसे मिले, कितने रुपये

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने टी20 विश्व कप की विजेता भारतीय टीम के लिए 125 करोड़ रुपये की इनामी राशि घोषित की थी। रोहित शर्मा की अगुआई में भारत ने 29 जून को बारबाडोस में दक्षिण अफ्रीका को सात रन से हराकर दूसरी बार टी20 विश्व कप का खिताब अपने नाम किया था। इस शानदार जीत के बाद बीसीसीआई ने भी अपना खजाना खोला था। इस बात को लेकर कई दिनों से चर्चा चल रही थी कि इस इनामी राशि को टीम के सदस्यों में किस तरह बांटा जाएगा। अब एक रिपोर्ट में इसे लेकर खुलासा हुआ है। इस वैश्विक टूर्नामेंट के लिए भारत की तरफ से कुल 42 सदस्यों का दल भेजा गया था

मुंबई में हुआ था भव्य स्वागत
भारतीय टीम की ऐतिहासिक जीत के बाद मुंबई में विश्व विजेताओं का भव्य स्वागत किया गया था। गुरुवार को टीम बारबाडोस से नई दिल्ली पहुंची थी जिसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। पीएम से मिलने के बाद टीम शाम को मुंबई पहुंची थी जहां पहले एयरपोर्ट पर भारतीय खिलाड़ियों का स्वागत किया गया। इसके बाद मरीन ड्राइव से लेकर वानखेड़े स्टेडियम तक खुली बस में विजय जुलूस के साथ टीम का अभिवादन किया गया था। इस विजय जुलूस में भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों का हुजूम उमड़ पड़ा था। विजय जुलूस के बाद वानखेड़े स्टेडियम में बीसीसीआई ने भारतीय टीम का सम्मान किया जहां बोर्ड के पदाधिकारियों ने टीम को 125 करोड़ रुपये का चेक सौंपा था।  

द्रविड़ और 15 खिलाड़ियों को मिले सर्वाधिक रुपये
इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई ने जो 125 करोड़ रुपये की इनामी राशि का एलान किया था उसमे से सबसे ज्यादा रुपये 15 सदस्यीय भारतीय टीम के खिलाड़ियों और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को मिले। दिलचस्प बात यह है कि इन 15 सदस्यीय खिलाड़ी में तीन खिलाड़ी ऐसे थे जिन्हें एक भी मैच में प्लेइंग-11 में शामिल नहीं किया गया था। रिपोर्ट के अनुसार, कप्तान रोहित शर्मा सहित टीम के 15 खिलाड़ियों तथा कोच राहुल द्रविड़ को पांच-पांच करोड़ रुपये दिए गए। इनमें यशस्वी जायसवाल, संजू सैमसन और युजवेंद्र चहल भी शामिल हैं जिन्हें एक मैच में भी खेलने का मौका नहीं मिला था। द्रविड़ का कार्यकाल टी20 विश्व कप फाइनल के साथ ही समाप्त हो गया था।

कोचिंग स्टाफ को मिले 2.5 करोड़ रुपये
मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को भले ही पांच करोड़ रुपये का इनाम मिला, लेकिन उनके अन्य साथियों को ढाई करोड़ रुपये दिए गए। बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़, फील्डिंग कोच टी. दिलीप और गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे को 2.5 करोड़ रुपये दिए गए। वहीं, फिजियोथेरेपिस्ट, थ्रोडाउन विशेषज्ञ और स्ट्रेंग्थ एंड कंडिशनिंग कोच जैसे अन्य बैकरूम स्टाफ को दो-दो करोड़ रुपये दिए गए हैं। 

चयनकर्ता और रिजर्व खिलाड़ी को भी मिली मोटी रकम
खिलाड़ी, कोच और सहायक स्टाफ के अलावा अजीत अगरकर के नेतृत्व वाली सीनियर चयन समिति तथा चार रिजर्व खिलाड़ियों को भी ईनाम में मोटा हिस्सा मिला है। रिपोर्ट के मुताबिक, रिंकू सिंह, शुभमन गिल, आवेश खान और खलील अहमद के अलावा चयन समिति के पांच सदस्यों को एक-एक करोड़ रुपये इस इनामी राशि से मिले हैं। इनके अलावा इनामी राशि को वीडियो एनालिस्ट और बीसीसीआई के स्टाफ सदस्यों में भी बांटा गया है। 

इससे पहले, बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा था, 'जहां तक 125 करोड़ रुपये का सवाल है तो यह रकम खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, कोच और चयनकर्ताओं में भी बांटी जाएगी।' मालूम हो कि बीसीसीआई के अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने भी भारतीय टीम के लिए 11 करोड़ रुपये की इनामी राशि घोषित की थी।