मिल गई भोले बाबा की लोकेशन, हाथरस कांड के बाद से यहां छुपा बैठा है नारायण साकार

हाथरस हादसे में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस केस का मुख्य आरोपी अभी फरार है,

मिल गई भोले बाबा की लोकेशन, हाथरस कांड के बाद से यहां छुपा बैठा है नारायण साकार

हाथरस हादसे में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस केस का मुख्य आरोपी अभी फरार है, पुलिस ने उसके ऊपर 1 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है. वहीं, पुलिस कथित भोले बाब की तलाश में भी जुटी हुई है. उसकी लोकेशन को लेकर जानकरी की जा रही हैं. इसी बीच बाबा के ठिकाने का पता चला है. हादसे के बाद से वह फरार है.

हाथरस कांड के बाद पुलिस नारायण साकार विश्व हरि उर्फ भोले बाबा की तलाश में है. कथित भोले बाबा हादसे के बाद से फरार है. पुलिस ने उसकी तलाश में उसके कई अलग-अलग जिलों में बने आश्रमों पर छापे भी मारे, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला. सूत्रों के मुताबिक, बाबा की लोकेशन मैनपुरी के आश्रम में ही है. हादसे के बाद से ही भोले बाबा इस आश्रम में आ गया था. वह अपनी लग्जरी गाड़ी के जरिए घटनास्थल से सीधे मैनपुरी आश्रम पहुंच गया था.


2 जून को हाथरस के फुलरई गांव में नारायण साकार विश्व हरि उर्फ भोले बाबा के सत्संग समापन पर भगदड़ मचने से बड़ा हादसा हुआ था, इसमें 121 लोगों की मौत हो गई थी. हादसे के बाद से ‘भोले बाबा’ फरार हो गया. पुलिस ने उसकी तलाश में कई स्थानों पर छापे मारे. पुलिस को बाबा के मैनपुरी स्थित आश्रम पर होने की जानकारी भी मिली. आश्रम पर छापा मारने पर पुलिस को वहां बाबा नहीं मिला. इस बीच करीब 1 घंटे तक पुलिस मैनपुरी के इस आश्रम पर रही. पुलिस के अनुसार, आश्रम पर उन्हें 50 से 60 महिलाएं मिली थीं.

हादसे के बाद पहुंच गया था मैनपुरी
हादसे वाली जगह से बाबा का काफिला मैनपुरी की ओर जाते दिखा था. हादसे वाले दिन घटनास्थल से करीब 500 मीटर दूर स्थित एक पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में बाबा का काफिला मैनपुरी की ओर जाते दिखा था. हादसे के बाद जब पुलिस ने बाबा की कॉल डिटेल्स खंगाली तो उसमें हादसे वाले दिन दोपहर 3 बजे से 4 बजकर 35 मिनट तक बाबा की लोकेशन मैनपुरी के आश्रम में मिली. 4:35 के बाद उसका फोन स्विच ऑफ हो गया.

6 आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी पर 1 लाख का इनाम
हाथरस भगदड़ केस में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनमें बाबा के सेवादार और समिति के सदस्य शामिल हैं. घटना का मुख्य आरोपी देव प्रकाश मधुकर फरार है. पुलिस ने उस पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया है. पुलिस ने जिन आरोपियों की गिरफ्तारी की है उनमें मैनपुरी का रहने वाला 50 वर्षीय राम लड़ैते, फिरोजाबाद का उपेंद्र सिंह यादव, हाथरस के मेघसिंह, मुकेश कुमार, मंजू यादव और मंजू देवी शामिल हैं. पुलिस के मुताबिक, ये लोग आयोजन समिति के सदस्य हैं. इन पर बाबा के लिए चंदा इकट्ठा करना और भीड़ जमा करने का काम था.ये कार्यक्रम में सभी तरह की व्यवस्था करते हैं.

पुलिस कर रही बाबा के आपराधिक रिकॉर्ड की जांच
वहीं, पुलिस ने मुख्य आयोजक देव प्रकाश मधुकर पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया है. घटना के बाद से ही देव प्रकाश मधुकर फरार है. इधर पुलिस नारायण साकार विश्व हरि उर्फ भोले बाबा के आपराधिक रिकॉर्डों को खंगाल रही है. पुलिस का कहना है कि अगर जरूरत पड़ी तो बाबा से भी पूछताछ की जायेगी. बाबा के खिलाफ कितने केस दर्ज हैं इसकी जांच की जा रही है. पूरी घटना में बाबा का क्या रोल था इसकी भी जांच की जा रही है.