Bharat Ratna: चौधरी चरण सिंह को भारत रत्‍न, किसानों के दिल में बसते हैं पूर्व पीएम, जानें पोते जयंत चौधरी ने क्‍या कहा?

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और क‍िसान नेता चौधरी चरण सिंह को भारत रत्‍न देने का ऐलान किया गया है. भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को देश के प्रभावशाली किसान नेता में से एक माना जाता है. अपने प्रधानमंत्रित्‍व काल में चौधरी चरण सिंह ने किसान के हित में कई ऐसे फैसले लिए थे,

Bharat Ratna: चौधरी चरण सिंह को भारत रत्‍न, किसानों के दिल में बसते हैं पूर्व पीएम, जानें पोते जयंत चौधरी ने क्‍या कहा?

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और क‍िसान नेता चौधरी चरण सिंह को भारत रत्‍न देने का ऐलान किया गया है. भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को देश के प्रभावशाली किसान नेता में से एक माना जाता है. अपने प्रधानमंत्रित्‍व काल में चौधरी चरण सिंह ने किसान के हित में कई ऐसे फैसले लिए थे, 

जिन्‍हें आज भी याद किया जाता है. वैसे तो वह पूरे देश में लोकप्रिय थे, लेकिन पश्चिम उत्‍तर प्रदेश में उनका प्रभाव काफी ज्‍यादा था. भारत सरकार ने चौधरी चरण सिंह को मरणोपरांत भारत रत्‍न देने की घोषणा ऐसे वक्‍त की गई है, उनके पोते जयंत चौधरी के NDA के साथ आने की चर्चाएं तेज हैं. बता दें कि इसी साल लोकसभा चुनाव भी होने हैं. जयंत चौधरी ने दादा चौधरी चरण सिंह को भारत रत्‍न देने के भारत सरकार के फैसले पर खुशी जताई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म X पर एक पोस्‍ट के जरिये पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह को देश के सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान भारत रत्‍न से सम्‍मानित करने के बारे में सूचना दी. पीएम मोदी ने चौधरी चरण सिंह के साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्‍हा राव और भारत में हरित क्रांति के जनक एमएस स्‍वामीनाथन को भी मरणोपरांत भारत रत्‍न से नवाजने की घोषणा की है. इससे पहले बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री और प्रख्‍यात समाजवादी नेता कर्पूरी ठाकुर के साथ ही भाजपा के दिग्‍गज नेता, राम मंदिर आंदोलन के अगुआ और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री ललकृष्‍ण आडवाणी को पहले ही भारत रत्‍न से सम्‍मानित करने की घोषणा की जा चुकी है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म X पर पोस्‍ट कर इसकी जानकारी दी है. पीएम मोदी ने कहा, ‘हमारी सरकार का यह सौभाग्य है कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जा रहा है. यह सम्मान देश के लिए उनके अतुलनीय योगदान को समर्पित है. उन्होंने किसानों के अधिकार और उनके कल्याण के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया था. 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हों या देश के गृहमंत्री और यहां तक कि एक विधायक के रूप में भी, उन्होंने हमेशा राष्ट्र निर्माण को गति प्रदान की. वे आपातकाल के विरोध में भी डटकर खड़े रहे. हमारे किसान भाई-बहनों के लिए उनका समर्पण भाव और इमरजेंसी के दौरान लोकतंत्र के लिए उनकी प्रतिबद्धता पूरे देश को प्रेरित करने वाली है.’

दिल जीत लिया- जयंत चौधरी
चौधरी चरण सिंह को पश्चिम उत्‍तर प्रदेश के साथ ही पूरे देश के किसानों का निर्विवाद नेता माना जाता था. खासकर जाटों के बीच उनकी गहरी राजनीतिक पकड़ थी. उनके पोते और राष्‍ट्रीय लोकदल के नेता जयंत चौधरी ने मोदी सरकार के इस फैसले पर खुशी जताई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्‍ट को री-पोस्‍ट करते हुए जयंत चौधरी ने लिखा- दिल जीत लिया. बता दें कि लोकसभा चुनाव में चौधरी चरण सिंह के पोते जयंत चौधरी के भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की चार्चएं चल रही हैं.